22 June 2021

गुरु रविदास मंदिर मामला: दलितों का दिल्ली में ज़ोरदार प्रदर्शन

तुग़लक़ाबाद फॉरेस्ट एरिया में गुरु रविदास का मंदिर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तोड़ दिया गया. मंदिर तोड़े जाने के बाद पंजाब, हरयाणा सहित देश के कई राज्यों में ज़बरदस्त विरोध प्रदर्शन हुए. आज इसी कड़ी में दलित समाज ने दिल्ली में विरोध प्रदर्शन और ज़बरदस्त रैली का आयोजन किया. झंडेवालान से रामलीला मैदान तक निकाले गए इस विरोध प्रदर्शन में क़रीब 50 हज़ार से अधिक लोग शामिल हुए. इसके बाद दिल्ली के रामलीला मैदान में एक रैली का भी आयोजन किया गया. 

पंजाब से बड़ी संख्या में लोगों ने इस विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया. दिल्ली सरकार में समाज कल्याण मंत्री राजेन्द्रपाल गौतम ने भी अपने समर्थकों के साथ इस प्रदर्शन में भाग लिया. उनका कहनथा की एक साज़िश के तहत इस मंदिर को तोडा गया. डीडीए जानबूझ कर इस मामले को सुप्रीम कोर्ट लेकर गया. इस्सके साथ ही  उन्होंने सरकार से यह मांग की के मंदिर को उसी जगह पर दुबारा स्थापित किया जाए. 

चंद्रशेकर रावण अपने समर्थकों के साथ इस रैली में ज़ोर शोर से शामिल हुए. कई जगह पर उनके समर्थकों और पुलिस के बीच तीखी बहस भी हुई. दिल्ली के तुग़लक़ाबाद फॉरेस्ट एरिया में स्तिथ गुरु रविदास के मंदिर को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद डीडीए ने तोड़ दिया तथा. 13 अगस्त को पंजाब में सड़कें और हाईवे को जाम कर के ज़बरदस्त विरोध प्रदर्शन किया गया. इस मामले ने अब राजनितिक रंग ले लिया है. कांग्रेस इस मामले में केंद्र सरकार पर हमलावर हो गई है. वहींब आम आदमी पार्टी ने सारा मामला केंद्र सरकार के भरोसे छोड़ दिया है.

Latest News